Book Detail

Afraishiyab
Afraishiyab

Ebook : 20 INR     Paperback : 95 INR

5
1 Reviews

ISBN : 978-93-86352-68-2

Availability: In Stock

Check Availability At
Choose Binding Type

Quantity

ये कहानी मशहूर ईरानी बादशाह अफ्रैशियाब की है। जिसके बारे में कई तरह की बातें ईरानी, तुर्की और अन्य कई साहित्यों के अलावा अरबी, मांगोलिया, फारसी, साहित्य समूचे सेन्ट्रल और वेस्टर्न एशिया के घरों में, आज भी उनके कारनामों को याद किया जाता है। वे अपनी मृत्यु के सैकड़ों वर्षों बाद भी कितने लोकप्रिय थे। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है, कि मोहम्मद गजनवी और बलबन जैसे शासकों से अपना सिंहासन बचाये रखना मुश्किल होने लगा, तो इन लोगों ने खुद को अफ्रैशियाब का वंशज बताया। जिसने न सिर्फ़ इनका सिंहासन बचाया बल्कि इतिहास में एक नया अध्याय रच दिया। मगर ये हमारा दुर्भाग्य ही है, कि उन्होंने अपने शासन काल में ये कभी नहीं बताया, कि वे आर्य देश के निवासी है। जिसके कारण भारतीय आज भी उस महान बादशाह के बारे में नहीं जानते हंै।
इस कहानी के माध्यम से हम अफ्रैशियाब के बचपन से लेकर सिंहासन पाने तक की हैरत-अंगेज कहानी बताने का प्रयास कर रहा हूँ।

Publisher : Onlinegatha

Edition : 1

ISBN : 978-93-86352-68-2

Number of Pages : 83

Weight : 100 gm

Binding Type : Ebook , Paperback

Paper Type : Cream Paper(70 GSM)

Language : Hindi

Category : Fiction

Uploaded On : May 19,2017

Partners : google play , Payhip , Smashwords , Kobo , pustakmandi.com , Flipkart

Compare Prices
Seller
Binding Type
Price
Details
Ebook
20 INR / 0.31 $
Ebook
64.52 INR / 1.00 $
Ebook
64.46 INR / 1 $
Ebook
97.29 INR / 1.50 $
Paperback
90 INR / 1.39 $
paperback
115 INR / 1.78 $
Customer Reviews
  • xigobedad

    An online book store is introduced for the satisfaction of the people. The charge of the man and thesis editing services is identified for the humans. The assumption of the books is reduced from the lives of the students.

Ebook : 20 INR

Embed Widget