Book Detail

Roshni Ki Oar
Roshni Ki Oar

Ebook : 30 INR     Paperback : 65 INR

Not Reviewed

ISBN : 978-93-86352-09-5

Availability: In Stock

Check Availability At
Choose Binding Type

Quantity

रोशनी की ओर .......
यह कविता एवं चित्र-संग्रह इस विचारधारा को समर्पित है कि हमारा समाज नशामुक्त होना चाहिए। यदि हमारा देश नशामुक्त होगा तो हम कई समस्याओं पर काबू पा सकते हैं। लोगों का जीवन सुखमय होगा और देश की तरक्की होगी। विशेषतः हमारे नौजवान इस नशे की बीमारी से दूर रहने चाहिए ताकि उनका भविष्य संवर सकें और वे अपने देश का गौरव बने एवं समाज में अपनी सकारात्मक भूमिका निभा सकें। हमें हार्दिक प्रसन्नता होगी यदि इस किताब से किसी को भी नशे के अन्धकार से बचने की प्रेरणा मिले।

Publisher : Onlinegatha

Edition : 1

ISBN : 978-93-86352-09-5

Number of Pages : 37

Weight : 200 gm

Binding Type : Ebook , Paperback

Paper Type : Cream Paper(58 GSM)

Language : Hindi

Category : SELF-HELP

Uploaded On : October 8,2016

Partners : Snapdeal , Amazon , pustakmandi.com , Payhip , shopclues , Flipkart , Smashwords , Paytm

अभिनव सत्यार्थी








पिता :श्री देवी राम








माता : श्रीमती कृष्णा देवी








जन्म स्थान : गाँव रड़ू, डॉ. अप्पर बैहली, त0 सुन्दर नगर जिला मण्डी (हि.प्र.)








शिक्षा : एम.ए. (अंग्रेजी), बी.एड.








जीवन साथी : श्रीमती योगिता देवी








व्यवसाय : प्रशिक्षित स्नातक अंग्रेजी शिक्षक (के. वि. एस.)








संप्रति : केन्द्रीय विद्यालय डलहौज़ी (बनीखेत)








रचनाकर्म : एलबमः ‘‘ये जहान तेरा भी है बिटियाँ’’, कविता संग्रहः ‘‘नई राहें’’ प्रस्तावित








बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ विचारधारा को समर्पित हैं








Compare Prices
Seller
Binding Type
Price
Details
Paperback
90 INR / 1.35 $
Paperback
90 INR / 1.35 $
Paperback
65 INR / 0.97 $
Ebook
30 INR / 0.45 $
Paperback
85 INR / 1.27 $
Paperback
75 INR / 1.12 $
Ebook
30 INR / 0.99 $
Paperback
65 INR / 0.97 $
Customer Reviews
  • Give Your Review Now

Ebook : 30 INR

Embed Widget