Book Detail

Mata Trast Bacche Mast
Mata Trast Bacche Mast

Ebook : 49 INR     Paperback : 160 INR

3.9
7 Reviews

ISBN : 978-93-86163-31-8

Availability: In Stock

Check Availability At
Choose Binding Type

Quantity

नेपथ्य से उद्घोषणा - बीमारी आखिर बीमारी होती है चाहें वह भौतिक शरीर में हो या किसी समाज मंे। प्रिय दर्शकांे यहाँ पर आप भारत माँ को हुयी संक्रमक बीमारी - भ्रष्टाचार, से पीड़ित देखेंगे, कराहती माँ की पीड़ा देखेंगे। पीड़ा से दुःखी माँ की छटपटाहट भी देखेंगे। हाँलाकि मैं यह जानता हूँ। इस सभागार मंे उपस्थित प्रत्येक आत्मा इस पीड़ा को सहन कर रही है। भारत माँ क्या सोंचती है हमें देखकर, यही दिखाने की कोशिश की है आपके इस अदने से लेखक विमल ने। भारत माँ की व्याकुलता में यदि आप अपने को रख सके तथा भ्रष्टाचारियों के खिलाफ नफरत व क्रोध उतार सके; साथ ही माँ के प्रति दर्द के कारण आंखो मंे नमी ला सके तो मैं समझूंगा मेरी कलम ने अपना कर्तव्य पूरा किया।

Publisher : Onlinegatha

Edition : 1

ISBN : 978-93-86163-31-8

Number of Pages : 67

Binding Type : Ebook , Paperback

Paper Type : Cream Paper(58 GSM)

Language : Hindi

Category : Fiction

Uploaded On : June 22,2016

Partners : Ebay , shopclues , Smashwords , Payhip , Flipkart , ezebee.com , Paytm , scribd

नेपथ्य से उद्घोषणा - बीमारी आखिर बीमारी होती है चाहें वह भौतिक शरीर में हो या किसी समाज मंे। प्रिय दर्शकांे यहाँ पर आप भारत माँ को हुयी संक्रमक बीमारी - भ्रष्टाचार, से पीड़ित देखेंगे, कराहती माँ की पीड़ा देखेंगे। पीड़ा से दुःखी माँ की छटपटाहट भी देखेंगे। हाँलाकि मैं यह जानता हूँ। इस सभागार मंे उपस्थित प्रत्येक आत्मा इस पीड़ा को सहन कर रही है। भारत माँ क्या सोंचती है हमें देखकर, यही दिखाने की कोशिश की है आपके इस अदने से लेखक विमल ने। भारत माँ की व्याकुलता में यदि आप अपने को रख सके तथा भ्रष्टाचारियों के खिलाफ नफरत व क्रोध उतार सके; साथ ही माँ के प्रति दर्द के कारण आंखो मंे नमी ला सके तो मैं समझूंगा मेरी कलम ने अपना कर्तव्य पूरा किया।
Compare Prices
Seller
Binding Type
Price
Details
Paperback
250 INR / 3.67 $
Paperback
250 INR / 3.67 $
ebook
67.15 INR / 1.00 $
ebook
67.15 INR / 1.00 $
Paperback
200 INR / 2.98 $
Paperback
250 INR / 3.69 $
Paperback
240 INR / 3.56 $
ebook
67.15 INR / 1.00 $
Customer Reviews
  • kumar singh

    nice book

  • kumar singh

    nice book

  • Amit singh

    nice content

  • priya paswani

    Very True... Loved the book

  • priya paswani

    Very True... Loved the book

  • Raj Author

    Good Start

  • Divya princess

    Good book

Ebook : 49 INR

Embed Widget