Book Detail

Vadini
Vadini

Ebook : 49 INR     Paperback : 99 INR

4.8
3 Reviews

ISBN : 978-93-85818-24-0

Availability: In Stock

Check Availability At
Choose Binding Type

Quantity

पी के गंगा जल’
पी के गंगा जल, हम शमषान जायेंगे,
और धर्म जो कोई पूछेगा, तो इंसान बतायेंगे।
हम तो पैगाम मोहब्बत का लेकर आये हैं,
नफ़रत से हम खुद को, अंजान बतायेंगे।
पी के गंगा जल.....................

Publisher : Onlinegatha

Edition : 1

ISBN : 978-93-85818-24-0

Number of Pages : 80

Weight : 93 gm

Binding Type : Ebook , Paperback

Paper Type : Cream Paper(58 GSM)

Language : Hindi

Category : Poetry

Uploaded On : May 12,2016

Partners : Amazon , shopclues , Payhip , Ebay , Flipkart , ezebee.com , Smashwords , Paytm , Rockstand.in , scribd

मै वादिनी यादव माँ सरस्वती के आर्षीवाद से मुझे षब्दों के मोतियों को लड़ियों मे पिरोने की खूबसूरत कला मिली है, खुद को लेखक तो नहीं पर लिखने की एक कोषिष मे तत्पर एहसास को लफ्ज़ां में बाँधकर कला के एक रूप को उजागर करने की ‘‘भूख’’ का एक ‘‘नाम’’ हूँ। मुझे बचपन से ही लिखने की आदत है, पर जब लोगो को मेरी लेखनी में कुछ गहराई नज़र आई तो इस आदत का हसरत बना लिया।
Compare Prices
Seller
Binding Type
Price
Details
Paperback
150 INR / 2.22 $
Paperback
150 INR / 2.24 $
ebook
49 INR / 0.73 $
Paperback
150 INR / 2.24 $
Paperback
180 INR / 2.69 $
Paperback
188 INR / 2.80 $
ebook
67.06 INR / 1.00 $
Paperback
180 INR / 2.67 $
ebook
30 INR / 0.58 $
ebook
67.15 INR / 1.00 $
Customer Reviews
  • Rohit Yadav

    she is really a versatile writer. Her poetry has feel of love , pain of loss , solace in grief , strength to fight , frustration of betrayal , and hope in all odds.

  • Anurag Srivastava

    Author has written excellent poetry that should raise lots of eyebrows. Pee k Gangajal" is a good reminder to look on the humorous side of our daily challenges.

  • ashish yadav

    Author is well versed with art of writing. Ever single line has a meaning in itself. book is just excellent. must go for it.

Ebook : 49 INR

Embed Widget