Book Detail

संवर्त
संवर्त

Ebook : 0 INR

3.8
3 Reviews

Category: Free Ebooks

Uploaded On: August 27,2015

Embed Widget
1 संघर्ष और सृष्टि की ऋचाएँ / डा. किरणशंकर प्रसाद / ‘कवि महेंद्र भटनागर का रचना-संसार’
2 संवर्त / श्रीमती ममता मिश्रा / ‘डा. महेंद्र भटनागर की काव्य-साधना’
3 ‘संवर्त और युगीन परिस्थितियाँ’ / श्री. रमेश रंजक / ‘डा. महेंद्र भटनागर का कवि-व्यक्तित्व’।
4 ‘कवि महेंद्र भटनागर का रचना-संसार’ / सं. डा. विनयमोहन शर्मा
(क) आत्म-बोध और नयी दिशा: डा. रामगोपाल शर्मा ‘दिनेश’
(ख) विभिन्न मनःस्थितियों और संवेदनाओं की अभिव्यक्ति: डा. गोविन्द ‘रजनीश’
(ग) जीवन्त सृजनात्मक लेखन: डा. श्यामसुन्दर घोष
(घ) मानवतावादी मूल्यों के प्रति प्रतिबद्ध: डा. नत्थन सिंह
5 ‘सामाजिक चेतना के शिल्पी कवि महेंद्र भटनागर’ / सं. डा. हरिचरण शर्मा
(क) आस्था और जिजीविषा की कविताएँ: डा. शम्भूनाथ चतुर्वेदी
(ख) सर्जना की सहज प्रेरणा का काव्य: डा. तारकनाथ बाली
(ग) मानवीय छटपटाहट और आस्था का काव्य: डा. दुर्गाप्रसाद झाला
(घ) मानवता और मानव-मूल्यों की कविताएँ: डा. सरयूप्रसाद अग्रवाल
 

Edition : 1

Weight :

Binding Type : Ebook

Paper Type : white

Language : Hindi

Category : Free Ebooks

Uploaded On : January 1,1970

Customer Reviews
  • Give Your Review Now