Book Detail

Dard
Dard

Ebook : 50 INR     Paperback : 247.5 INR

4.8
6 Reviews

ISBN : 978-81-931221-0-5

Availability: In Stock

Choose Binding Type

Quantity

Check Availability At
हर तरफ है बस निराशा, और अँधेरा दिल में है ।
रौशनी तो हर जगह है, बस सवेरा बिल में है|
यह पुस्तक दर्द आप लोगों के समक्ष प्रेषित कर रहा हूँ। वैसे तो यह देखने वाले की नजर पर निर्भर करता है कि वह किस पहलू को देखता है। जो जैसा सोचता है उसके ख्याल और विचार भी उसी दिशा में जाने लगते हैं। एक स्वस्थ सोच ही स्वस्थ जीवन प्रवाह दे सकती है।
चलता रहा जमीं पर, क्यों अब मैं उड़ रहा हूँ |
राहों में सीधे चलकर, क्यों अब मैं मुड़ रहा हूँ ।
तराशा था खुद में हीरा, क्यों पत्थरों से जुड़ रहा हूँ|
फितरत नहीं है मेरी, फिर क्यों मैं कुढ़ रहा हूँ|
इंसान के वश में सिवाय सोचने के और कुछ नहीं है। मेरा मानना है कि कम से कम जो हाथ में है उसे सही रखना चाहिए, अगर बस सोच हमारे हाथ में है तो हमें कम से कम अपनी सोच को सही रखना चाहिए। वाकि ईश्वर को जो करना है वह तो होकर ही रहेगा। मगर हमारी सोच कहीं न कहीं हमारा बचाव तो करती ही है। याद रहे किसी भी चीज से कोई फर्क नहीं पड़ता सिवाय सोच के। और यूँ कहें कि गहराई से देखा जाये तो सिर्फ सोच का ही फर्क होता है। आज हमारे समाज में `बहुत विसंगतियां हैं जिनका असर आज हम सभी झेल रहे हैं और अपना अमूल्य समय इन विसंगतियों की चर्चाओं में शामिल हो कर बर्बाद कर रहे हैं। सिर्फ चर्चा और कुछ नहीं।

Publisher : Onlinegatha

Edition : 1

ISBN : 978-81-931221-0-5

Number of Pages : 172

Weight : 240 gm

Binding Type : Ebook , Paperback

Paper Type : Cream Paper(58 GSM)

Language : Hindi

Category : Fiction

Uploaded On : May 2,2015

Partners : Flipkart , Smashwords , Kobo , scribd , shopclues , google play , ezebee.com , Amazon

सुधीर बंसल का जन्म दिनांक ०५-१२-१९६४ को द्दुआ ! इनके पिता का नाम स्व. श्री एन. एम. बंसल तथा माता का नामस्व. श्रीमती प्रेमवती बंसल था ! इनकी प्रारम्भिक शिक्षा अलीगढ़, (उत्तर प्रदेश) प्रारम् हुई ! सुधीर बंसल जी ने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा के सांथ -2 एम्. एस. सी. (स्टेटिस्टिक्स), एम्. सी. ए., डी.सी.पी. की शिक्षा प्राप्त की तथा अनेक लेखनी पर लेखन काय़॔ किया । सिविल इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट, जेड.एच.कॉलेज ऑफ़ इंजी. एंड टेक्नोलॉजी,अलीगढ़ मुस्लिम क्तविश्वविद्यालय, अलीगढ़ मे काय॔ किया। तथा सरकारी सेवा (ग्रुप 'ए' अधिकारी) सिस्टम्स प्रोग्रामर के पद पर नियुक्त हुए।
Compare Prices
Seller
Binding Type
Price
Details
PaperBack
280 INR / 4.24 $
Ebook
240 INR / 3.64 $
Ebook
227 INR / 3.44 $
Ebook
240 INR / 3.64 $
PaperBack
304 INR / 4.60 $
Ebook
168 INR / 2.54 $
PaperBack
290 INR / 4.40 $
Paperback
280 INR / 4.14 $
Customer Reviews
  • Madhulika Shukla

    good

  • Manisha Sahu

    sahi kaha sudhir ji इंसान के वश में सिवाय सोचने के और कुछ नहीं है। मेरा मानना है कि कम से कम जो हाथ में है उसे सही रखना चाहिए

  • Rita Rai

    another good book by sudhir bansal.

  • Rajendra Sharma

    good hindi poetry book.

  • Sumit Srivastava

    read both books and both the books are ausum !!! Really love it.

  • shubhra

    very nice book

Ebook : 50 INR

Embed Widget