Book Detail

जंगल के फूल- 1
जंगल के फूल- 1

Ebook : 50 INR

4.7
5 Reviews

Availability: In Stock

Choose Binding Type

Quantity

बँगला साहित्य के सुप्रसिद्ध रचनाकार [बनफूल] का रचना-संसार यूँ तो

बहुत विशाल है- 5 नाटक, 60 उपन्यास, 586 कहानियाँ, हजारों कवितायें,

अनगिनत लेख, कई एकांकी और एक आत्मकथा, मगर वे जाने जाते हैं अपनी पेज भर

लम्बी सरस, चुटीली कहानियों के कारण, जो विस्मय के साथ समाप्त होती हैं-

जैसे कि एक अच्छा शेर। कहानियों के चरित्र वास्तविक जीवन से लिये गये

होते हैं। ऐसे शब्दचित्रों को अँग्रेजी में विनेट (Vignetts), अर्थात्

बेलबूटे कहा जाता है। प्रस्तुत संग्रह में उनकी ज्यादातर कहानियाँ इसी

श्रेणी की हैं।

Publisher : Onlinegatha

Edition : 1

Number of Pages : 88

Weight : 100 gm

Binding Type : Ebook

Paper Type : creme

Language : Hindi

Category : Fiction

Uploaded On : February 5,2015

Customer Reviews
  • Manisha Sahu

    nice book

  • Pari Vikram

    while translation from one language to any other language there may be some mistakes, but in this book there are no mistake, good book

  • Rajesh Vikram

    this book is for those peoples who love bangla but unable to read the bangali language

  • Mukesh Kumar

    accha likha hai jaideep ji ne

  • Rajendra Sharma

    waoooo, good book by nice title

Ebook : 50 INR

Embed Widget