Book Detail

Bhrashtaachaar ke khilaaf jan yuddh
Bhrashtaachaar ke khilaaf jan yuddh

Ebook : 50 INR     Paperback : 150 INR

4
1 Reviews

ISBN : 978-938-6915-79-5

Availability: In Stock

Check Availability At
Choose Binding Type

Quantity

भ्रष्टाचार के खिलाफ जनयुद्ध एक आम इंसान की कहानी है जो देश में क्रांति लाने के लिए संघर्षरत है । आम इंसान कैसे भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज बुलंद करता है? और सूचना के अधिकार के लिए आंदोलन करता है और वह उत्तर प्रदेश में सूचना के अधिकार की पहल कर एक इतिहास रच देता है , जिसमें देश के प्रसिद्ध सामाजिक सरोकार रखने वाले लोग भी शामिल होते हैं , अरविंद केजरीवाल उस आम आदमी के घर पर चाय और चर्चा कर सूचना के अधिकार की लड़ाई के बारे में अनुभव उस आम आदमी से लेते हैं । फिर वह आम आदमी अन्ना हजारे के आंदोलन में सक्रिय भूमिका निभाने के लिए उपवास कर देश के लिए अपने प्राणों की आहुति देने पर उतारू हो जाता है

Publisher : Onlinegatha

Edition : 1

ISBN : 978-938-6915-79-5

Number of Pages : 129

Weight : 100 gm

Binding Type : Ebook , Paperback

Paper Type : White Paper(70 GSM)

Language : Hindi

Category : HISTORY & POLITICS

Uploaded On : April 10,2019

Partners : Kraftly , Payhip , Smashwords , Flipkart , Amazon , Amazon Kindle , Lulu.com , Kobo

नाम-मुन्ना लाल शुक्ला, माां-शाांनत देवी, जन्म-05-01-1970, शशक्षा- ग्रेजुएट लखनऊ ववश्वववद्यालय, पोस्ट ग्रेजुएट-अवि ववश्वववद्यालय। सामाक्जक जीवन - महात्मा गाांिी जी के साननध्य में िहने वाले औि उनके आदशक वाक्यों को पढ़े - शलखे लोगों को गाांवों में जाकि सेवा किनी चादहए, इसे साकाि किने वाले सूयक प्रकाश , बाबा जी के साननध्य में जीवन बीता । नन:शक्त बच्चों (मूक - बधििों) बच्चों को शशक्षा देने की रेननांग लेकि िाजस्थान में गाांिी ववद्यालय, अलवि में जागृनत ववद्यालय, पदटयाला में औि भी देश-भि में समाज सेवी सांस्थाओां में कायक ककया औि समाज सेवा के नाम पि मूक - बधिि बच्चों , उनके ववशेष शशक्षकों के उत्पीड़न को देखकि मन ववचशलत हुआ , औि कफि देश की सांस्थाओां के शशक्षकों को एकजुट किने की कोशशश की ।
Compare Prices
Seller
Binding Type
Price
Details
Paper back
150 INR / $
e-book
50 INR / 0.72 $
e-book
68.50 INR / 0.99 $
paperback
150 INR / $
paperback
150 INR / $
e-book
68 INR / $
e-book
68.68 INR / 0.99 $
e-book
67.79 INR / $
Customer Reviews
  • Junaid Khan

    This book is very interesting..

Ebook : 50 INR

Embed Widget